Gangman of Railways out rightly reject rest hours given on duty

| October 12, 2017 | Reply

gangman fb

भोजन अवकाश के दौरान हादसा हो तो भी गैंगमैन जिम्मेदार, ऐसा रेस्ट नहीं चाहिए

रेल पटरियों पर काम करने वाले गैंगमैनों (ट्रैकमैन) को काम के दौरान रेलवे में भोजन के लिए रेस्ट तो मिलता है, लेकिन इस दौरान हादसा हो जाए तो अधिकारी गैंगमैनों को ही जिम्मेदार ठहरा देते हैं। यह दोहरी नीति बर्दाश्त नहीं करेंगे। सोमवार को यह बात रेलवे कर्मचारी ट्रैकमैन एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष वी रवि ने कही। वे भोपाल रेलवे कॉलोनी के समाज कल्याण परिसर में आयोजित सेफ्टी सेमिनार में बोल रहे थे।








उन्होंने कहा गैंगमैन बारिश, धूप और ठंड में रेलवे को दुर्घटना से बचाने का काम करते हैं। इसलिए उन्हें सैनिकों के समान दर्जा मिलना चाहिए। सुविधाएं भी बढ़ानी चाहिए। उन्होंने कहा काम के दौरान भोजन के लिए गैंगमैनों को जो रेस्ट मिलता है उस दौरान काम की जिम्मेदारी अधिकारियों को लेनी चाहिए। या किसी दूसरी यूनिट से काम कराना चाहिए। गैंगमैन भोजन करेंगे या अधूरे काम को पूरा करेंगे। यह तो वही बात हो गई कि काम भी करो, रेस्ट भी देंगे, लेकिन हादसा भी नहीं होना चाहिए। ऐसा नहीं चलेगा। रेलवे को व्यवस्था सुधारनी चाहिए।




गैंगमैन गणपत सिंह ने कहा अधिकारी स्वार्थ के कारण गैंगमैनों का उपयोग करते हैं और काम हो जाने के बाद दूध में से मक्खी की तरह निकालकर फेंक देते हैं। इसलिए गैंगमैनों को ऐसे अधिकारियों के झांसे में न आकर रेलवे सुरक्षा से जुड़े काम करने चाहिए। किसी के दबाव में आने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा आज ड्यूटी के दौरान गैंगमैनों में भय का माहौल है। झांसी मंडल के अध्यक्ष सुरेद्र शर्मा ने कहा गैंगमैनों को किसी से डरने की जरूरत नहीं है, बल्कि निष्ठावान बनकर काम करना होगा। यदि हर गैंगमैन पटरी की सुरक्षा के लिए समय से 10 मिनट पहले ड्यूटी पर पहुंचेगा तो अधिकारी चार्जशीट नहीं दे सकेंगे। एसोसिएशन के हेमंत राठौर ने कहा गैंगमैनों को खुद के अधिकारों के लिए आगे आकर लड़ाई लड़नी होगी। ऐसा करने पर अधिकारी चार्जशीट देने, अनुपस्थिति लगाने और नौकरी से निकालने की धमकी भी देंगे। लेकिन डरने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा खुद का काम ईमानदारी और निष्ठा से करना होगा।




एसोसिएशन के जी गणेश्वर राय ने कहा कि गैंगमैनों की कई समस्याएं हैं। इनमें से सरकार ने हार्ड ड्यूटी एण्ड रिस्क भत्ता दिया है। बाकी की मांगों का निराकरण करने एसोसिएशन लड़ाई लड़ रहा है।

पहले सफाई की, फिर शुरू हुआ सेमिनार

अलग-अलग मंडलों से भोपाल में जुटे गैंगमैनों ने सोमवार सुबह 10 बजे भोपाल स्टेशन पर साफ-सफाई की। प्लेटफार्मों से कचरा हटाया। प्लेटफार्म-6 की तरफ सघन सफाई अभियान चलाकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को याद किया। उसके बाद रेलवे के समाज कल्याण परिसर में सेफ्टी सेमिनार शुरू किया।

ये मांगें लंबित

– गेट पर ड्यूटी 12 घंटे की जगह 8 घंटे कराई जाए।

– युनिट को पटरियों की देखरेख और सुधार के लिए दिए जाने वाले औजारों का आधुनिकिकरण किया जाए।

– यूनिट में सिक और मेमो उपलब्ध कराया जाए।

-सेफ्टी सेमीनार में गैंगमैन एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष वी रवि ने कहा

-रेलवे के अधिकारी अपना रहे दोहरी नीति, व्यवस्था सुधारने की मांग

Category: Indian Railway, News Paper

About the Author ()

Leave a Reply