रेलवे के तीन विभागों में संविदा पर रखे जाएंगे कर्मचारी

| June 30, 2019 | Reply

इलेक्ट्रिकल, इंजीनियरिंग व एसएंडटी(सिग्नल एंड टेलीकॉम) में जल्द ही संविदा कर्मचारी काम करते नजर आएंगे। रेलवे बोर्ड ने इसकी छूट देते हुए सभी जोनल मुख्यालय को आदेश जारी कर दिया है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन भर्ती के लिए जल्द ही विज्ञापन जारी करेगा।

रेलवे के सभी विभागों में स्टाफ की कमी है। हर महीने कर्मचारियों के सेवानिवृत्त होने पर स्थिति और खराब होती जाती है। इसका असर रेलवे के कामकाज पर पड़ रहा है। तकनीकी विभाग एसएंडटी, इंजीनियरिंग व इलेक्ट्रिक में समस्या ज्यादा है। इन विभागों पर ट्रेन के परिचालन की अहम जिम्मेदारी है।








स्टाफ की कमी दूर करने समय-समय पर सभी जोन रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेजे रहते हैं। परेशानी को देखते हुए ही बोर्ड ने मंगलवार को एक सर्कुलर जारी किया है। इसमें सभी जोन को इन तीनों विभागों में संविदा पर कर्मचारियों को रखने की अनुमति दे दी गई है। साथ ही उनका कार्यकाल दो साल और मानदेय का निर्धारण किया गया है। बोर्ड के अनुसार संविदा पर काम करने वाले कर्मचारियों को रेलवे की कार्यशैली का अनुभव प्राप्त होगा। इसके बाद उनका बेहतर ढंग से उपयोग किया जा सकता है।




सेवानिवृत्त कर्मचारियों को दिया गया मौका

इससे पहले भी कर्मचारियों की कमी दूर करने प्रयोग किया गया था। लेकिन यह केवल सेवानिवृत्त कर्मचारियों के लिए थी। बोर्ड का मानना था कि सेवानिवृत्त कर्मचारी अनुभवी होते हैं। उनसे काम लेने के लिए प्रशिक्षण देने की भी जरूरत नहीं होगी। यह पहला अवसर है, जब युवाओं को संविदा पर रखने की अनुमति दी गई है।

ये होगा मानदेय

लेबल जेड क्लॉस वाय क्लास एक्स क्लास

06 25 हजार 27 हजार 30 हजार

07 32 हजार 34 हजार 37 हजार

यात्रा भत्ता 500 रुपये




सर्कुलर में यात्रा भत्ता का भी प्रावधान किया गया है। संविदा कर्मचारी को प्रतिदिन के हिसाब से 500 रुपये भत्ता दिया जाएगा। संविदा भर्ती की रूपरेखा तैयार करने का जिम्मा कार्मिक विभाग को दिया गया है। जल्द ही इस पर जोन में चर्चा कर निर्णय लिया जाएगा।

कर्मचारियों की कमी दूर करने और रेल कार्यों में तीव्रता लाने में यह कदम उठाया गया है। जल्द ही रिक्त पदों के आधार पर संविदा में भर्ती की जाएगी।

Category: Indian Railway

About the Author ()

Leave a Reply