आरपीएफ के डीआईजी ने रेलवे अफसर की पत्नी से रात में ट्रेन में की अश्लील हरकत, मामला दर्ज

| August 4, 2019 | Reply

आरपीएफ के डीआईजी विजय खातरकर ने चलती ट्रेन में कथित रूप से रेलवे अधिकारी की पत्नी को छेड़ा, महिला के साथ उसकी बेटी भी थी

जबलपुर:- जबलपुर के रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स (आरपीएफ) के डीआईजी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. डीआईजी विजय खातरकर ने कथित रूप से चलती ट्रेन में तड़के रेलवे के एक अधिकारी की पत्नी से अश्लील हरकत की. उनके खिलाफ छेड़छाड़ करने की शिकायत दर्ज कराई गई है. जबलपुर में राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) ने इस मामले में रिपोर्ट दर्ज की है.








बताया जाता है कि डीआईजी विजय खातरकर ने कथित रूप से ओवरनाइट एक्सप्रेस ट्रेन में महिला से छेड़छाड़ की कोशिश. पीड़ित रेल अधिकारी की पत्नी एसी कोच नम्बर 15 में यात्रा कर रही थीं. डीआईजी खातरकर उसी एसी कोच की बर्थ नंबर 13 पर यात्रा कर रहे थे. छेड़छाड़ की घटना नरसिंहपुर से जबलपुर के बीच हुई. इस मामले में गाडरवारा जीआरपी जांच करेगी.

यह घटना सोमवार को तड़के हुई. चलती ट्रेन में आरपीएफ के उप महानिरीक्षक विजय खातरकर ने रेलवे अधिकारी की पत्नी से छेड़छाड़ की. हालांकि उप महानिरीक्षक (डीआईजी) की गिरफ्तारी अभी तक नहीं हो पाई है.




जीआरपी के अधीक्षक सुनील जैन के अनुसार ‘सीनियर डिवीजनल स्तर के रेलवे अधिकारी की पत्नी अपनी छह साल की बेटी के साथ इंदौर-जबलपुर ओवरनाइट एक्सप्रेस से जबलपुर आ रही थीं. एसी-1 के कोच में उनका रिजर्वेशन था. उनके सामने वाली सीट पर जबलपुर आरपीएफ में पदस्थ डीआईजी विजय खातरकर यात्रा कर रहे थे.’

जैन ने बताया कि ‘आज तड़के नरसिंहपुर-श्रीधाम के बीच (गाडरवारा जीआरपी थाना इलाके में) डीआईजी ने महिला यात्री के साथ चलती ट्रेन में अश्लील हरकत की. इसका महिला ने विरोध करते हुए चिल्लाना शुरू कर दिया. महिला की आवाज सुनकर यात्रा कर रहे अन्य लोग भी एकत्र हो गए.’




उन्होंने ने बताया कि ‘ट्रेन के जबलपुर पहुंचने पर महिला ने डीआईजी के खिलाफ जीआरपी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई.’ उन्होंने कहा कि जीआरपी ने आरपीएफ डीआईजी के खिलाफ 354-ए (यौन उत्पीड़न) के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया है और जांच करने के लिए केस डायरी को गाडरवारा जीआरपी थाने भेजा जा रहा है.

जबलपुर से गाडरवारा के बीच करीब 130 किलोमीटर की दूरी है. जैन ने बताया कि अभी तक आरोपी डीआईजी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है.

डीआईजी विजय खातरकर ने इस मामले में सफाई दी है. उन्होंने कहा कि ‘आज सुबह जब मैं पानी की बोतल लेने उठा तो मेरा हाथ उनसे टच हो गया जिसका उन्होंने मुद्दा बना लिया. उस वक्त भी मुझे खूब भला बुरा कहा. मैंने उस वक्त भी माफी मांग ली थी. मैंने कहा आप बहन जैसी हैं, लेकिन वे मुद्दा बनाना चाहती थीं. उन्होंने मुद्दा बना लिया. यही मुझे कहना है. गलती से मेरा हाथ उनके हाथ से टच हुआ था पानी की बोतल उठाते हुए और कोई गलत नीयत नहीं थी. उतरने की तैयारी में था मैं.’

Category: Indian Railway

About the Author ()

Leave a Reply