7वां वेतन आयोग : रेलवे में नॉन गजटेड कर्मचारियों के प्रमोशन का रास्ता साफ़, रेलवे बोर्ड ने दी मंजूरी

| November 23, 2019 | Reply

7वां वेतन आयोग : रेलवे में नॉन गजटेड कर्मचारियों के प्रमोशन का रास्‍ता, बोर्ड ने दी मंजूरी

भारतीय रेलवे (Indian Railway) में मेडिकल डिपार्टमेंट के नॉन गजटेड कर्मचारियों की लॉटरी लगने वाली है. रेलवे बोर्ड (Railway Board) उनके प्रमोशन को हरी झंडी दिखा दी है.

भारतीय रेलवे (Indian Railway) में मेडिकल डिपार्टमेंट के नॉन गजटेड कर्मचारियों की लॉटरी लगने वाली है. रेलवे बोर्ड (Railway Board) उनके प्रमोशन को हरी झंडी दिखा दी है. बोर्ड ने 8 पदों पर काम कर रहे कर्मचारियों के प्रमोशन को मंजूरी दी है. जिन लोगों का प्रमोशन होगा उनकी बेसिक सैलरी न्‍यूनतम 5000 रुपए बढ़ेगी. इसमें DA, TA और HRA भी बढ़ेगा. यानि महीने की सैलरी हजारों रुपए बढ़कर आएगी.









किनका होगा प्रमोशन

  1. स्‍टाफ नर्स
  2. फार्मासिस्‍ट
  3. रेडियोग्राफर
  4. लैब स्‍टाफ
  5. हेल्‍थ एंड मलेरिया इंस्‍पेक्‍टर
  6. फिजियोथेरेपिस्‍ट
  7. डाइटिशियन
  8. फैमिली वेलफेयर आर्गनाइजेशन








प्रमोशन का नियम
रेलवे बोर्ड के इस लेटर की कॉपी ‘जी बिजनेस’ के पास है. एजी आफिस ब्रदरहुड, प्रयागराज के पूर्व अध्‍यक्ष एचएस तिवारी के मुताबिक पदों के हिसाब से ही प्रमोशन का नियम है. कुछ डिपार्टमेंट में 66% तैनाती प्रमोशन से होती है. जरूरत पड़ने पर लोगों को डेपुटेशन पर रखा जाता है.

7th CPC

कितनी बढ़ेगी सैलरी
एचएस तिवारी के मुताबिक अगर किसी कर्मचारी को 1 लेवल का भी इंक्रीमेंट लगता है तो इससे उसकी मंथली सैलरी में 5 हजार रुपए से ऊपर की बढ़ोतरी होगी. कर्मचारी जितने ऊपर लेवल पर जाएगा, सैलरी उतनी ज्‍यादा बढ़ेगी.

7th CPC

देखें उदाहरण
मसलन फिजियोथेरेपिस्‍ट ग्रेड II के कर्मचारी का ग्रेड I में प्रमोशन होगा. इससे उसकी बेसिक सैलरी में करीब 9500 रुपए महीने का इंक्रीमेंट लगेगा. साथ में DA, HRA और TA भी बढ़ेगा. उन्‍हें लेवल 6 से लेवल 7 का इंक्रीमेंट मिलेगा. इस पद के लिए डायरेक्‍ट रिक्रूटमेंट (DR) के रास्‍ते भी खुले हैं.

Category: Indian Railway

About the Author ()

Leave a Reply