सातवाँ वेतन आयोग – खुशखबरी! इन कर्मचारियों की बढ़ेगी सैलरी और ग्रेच्युटी

| March 4, 2020 | Reply

सातवाँ वेतन आयोग – खुशखबरी! इन कर्मचारियों की बढ़ेगी सैलरी और ग्रेच्युटी

केंद्र की मोदी सरकार दीवाली से पहले जवाहर नवोदय विद्यालय समिति में कार्यरत कर्मचारियों को बड़ी सौगात दिया है. दरअसल केंद्र सरकार ने जवाहर नवोदय विद्यालय समिति में कार्यरत कर्मचारियों की ग्रेच्युटी 2018 से बढ़ा दिया है. जिसका लाभ लाखों कर्मचारियों को मिलेगा.

होली से पहले केंद्र के इन कर्मचारियों के अच्छे दिन आने वाले हैं. दरअसल केंद्र सरकार जवाहर नवोदय विद्यालय समिति के कर्मचारियों की ग्रेच्युटी बढ़ाने का फैसला लिया है. ग्रेच्युटी बढ़ाने के फैसले को लेकर केंद्र सरकार द्वारा बीते हफ्ते यानी कि 24 फरवरी को नोटिस भी जारी किया जा चुका है. रिपोर्ट्स की मानें तो कर्मचारियों को ग्रेच्युटी एरियर के साथ दिया जाएगा.








केंद्र सरकार द्वारा जारी नोटिस की मानें तो जवाहर नवोदय विद्यालय समिति में कार्यरत कर्मचारियों की ग्रेच्युटी 29 मार्च 2018 से बढ़ाई गई है. केंद्र सरकार के इस फैसले से जवाहर नवोदय विद्यालय समिति में कार्यरत 20 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को फायदा मिलेगा. इसका लाभ जवाहर नवोदय विद्यालय समिति के उन कर्मचारियों को भी मिलेगा जो 1 जनवरी 2004 से ज्वॉनिंग किये हैं.

बता दें, केंद्र सरकार की तरफ से यह फैसला ग्रेच्युटी एक्ट 1972 के तहत लागू किया गया है. ग्रेच्युटी लागू होने के साथ ही केंद्र सरकार एनवीएस पेमेंट सिस्टम वापस भी लिया जा रहा है. ग्रेच्युटी से जुड़ी अधिक जानकारी जवाहर नवोदय विद्यालय समिति के कर्मचारी संस्थान से प्राप्त कर सकेंगे.




वही केंद्र सरकार द्वारा अभी केंद्रीय कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन में बढ़ोतरी को लेकर फैसला नहीं लिया गया है. आपको बता दें कि केंद्रीय कर्मचारी पिछले कई वर्षों से अपने न्यूनतम वेतन में बढ़ोतरी की मांग कर रहे हैं, लेकिन केंद्र सरकार द्वारा अभी तक इस मुद्दे पर कोई फैसला नहीं लिया गया है.




पहले ऐसा माना जा रहा था कि केंद्र सरकार द्वारा केंद्रीय कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन में बढ़ोतरी 2019 लोकसभा चुनाव से पहले कर दिया जाएगा. लेकिन 2019 आम चुनाव के बाद भी इस मुद्दे पर कोई फैसला नहीं लिया गया. वही खबर यह भी थी कि केंद्र सरकार द्वारा दिवाली 2019 से पहले न्यूनतम वेतन पर कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है, लेकिन फिर इस मुद्दे को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया.

Category: Indian Railway, News Paper

About the Author ()

Leave a Reply